आज अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस है, आदमी का महत्व क्या है

आज अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस है इक आदमी की जिंदगी बचपन से लेकर जवानी और शादी के बाद तक, मर्द की सिर्फ पैदा होने की खुशियां मनाएं जाती हैं जी हां।

True Stories True Stories
 2  24905
आज अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस है, आदमी का महत्व क्या है
आज अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस है, आदमी का महत्व क्या है

जब हम बच्चे होते हैं तब हम अपने माता पिता के मार्ग पे चलते हैं हमें हर किसी किसी की इज्जत करना सिखाया जाता है हमें खासकर महिलाओं की की इज्जत करना सिखाया जाता है, तमाम ऐसी बातें बताई जाती हैं जो वे बातें कभी दिमाग में नहीं आती हैं, वे बातें हमें तब याद आती हैं जब हम उस उम्र में एंट्री मार देते हैं।

जब हम पैदा होते हैं तब ही हमारी खुशियां मनाई जाती हैं, ताजों साज के साथ, हमारे पैदा होने के लिए लड़कियों को भी पेट में मार दिया जाता है यह एक कड़वा सच है, लेकिन आदमी के पैदा होने के बाद से जो जीवन शुरू होता है वह बहुत ही दुखद और जिंदगी सिर्फ संघर्ष में बीत जाती है।

आप के लिए सुर्खियाँ

आप के लिए चुनी गई खबरें

हम क्यों कह रहे हैं कि हमारे सिर्फ पैदा होने की खुशी मनाई जाती है, जब हम बच्चे होते हैं हमें बताया जाता है महिलाओं की इज्जत करो, महिलाओं की देखभाल करो, कभी बहन के रूप में कभी बीबी के रूप में कभी मां के रूप में तो कभी बेटी के रूप में हमें हर तरीके से महिलाओं की इज्जत करना सिखाया जाता है और हम करते भी हैं बखूबी।

एक मिडिल क्लास और गरीब घर में पैदा हुआ बच्चा जब बड़ा होता है तो उसके कंधे पर कई सारी जिम्मेदारियां होती हैं मां की देखभाल करना बहन की शादी करना बहन के खर्चे देखना, शादी के बाद बीबी के शौक पूरे करना, लेकिन वह बच्चा जब बड़ा होता है तो उसे पता चलता है कि उसके पास तो कोई रोजगार नहीं है वही बच्चा रात की अंधेरी, दिन के उजालों में कड़ी मेहनत करता रहता है अपनी सारी खुवाशें मारकर घर की महिलाओं और बच्चों की ख्वाहिश को पूरी करने के लिए दिन रात कड़ी मेहनत करता रहता है।

वो इंसान जो सब को खुस करने के लिए खुद कब्र में चला जाता है, उफ तक न निकलता हो, फिर भी हर तरह से मर्द ही गलत होता ताने सुनता रहता है सारी जिंदगी, की उसने किया क्या है? मर्द खूबसूरत नहीं होता मर्द की सिर्फ नौकरी सैलरी प्रॉपर्टी देखी जाती है मर्द अगर गरीब है तो उसे उस की पसंद की लड़की नहीं मिलेगी, मर्द अगर अमीर है तो आप जानते ही हैं।

एक पहलू यह भी है जब यही मर्द को पता चलता है की दुनिया में सब कुछ पैसा ही है, पैसे से ही सारी चीज़ें हासिल की जा सकती हैं, तब ये मर्द सदीद जद्दो जहद वा मेहनत करता है मेहनत करते-करते जब कुछ हासिल नहीं होता है तब यह प्रदेश या विदेश का रास्ता पकड़ता है, अब यह कमाते कमाते सब कुछ भूल जाता है की वे किस लिए पैदा हुआ था इसे क्या करना है।

बहुत मेहनत करने के बाद बहन की शादी करता है घर बनवाता है, फिर मेहनत करता है, फिर अब इसको अपनी शादी की फिक्र होती है, अब ये मर्द बिलकुल टूट चुका होता है क्योंकि इसकी जिंदगी तो पहले ही निकल गई, जिसे यह चाहता था वो भी नहीं मिली इसे, अब यह शादी कर लेता है, फिर इसकी जिंदगी पहले से भी नरक हो जाती है, पहले फिर यह ठीक था अब शादी के बाद यह मेंटल हो चुका होता है, अब इसके पास सारी जिंदगी ताने सुनने के लिए ही रहता है बीबी के, मां बुड्ढी हो चुकी है अब बेटी भी बड़ी हो गई।

बेटी के शौक बीबी के श्रृंगार पूरा करता है इसे अब सदीद फिक्र होती है अपनी बेटी की शादी की पैसे नहीं है, फिर यह किसी तरह बनाए हुई जरिया बेचता है, और अपनी बेटी को विदा करता है, इसके पास अपनी बीबी के लिए तो पैसे होते हैं पर अब बूढ़ी मां की दवा के पैसे नहीं होते हैं, और ऐसे करते करते बूढ़ी मां भी चल बसी, बाप पहले ही जा चुका है, कुछ साल बाद इसे अपनी बहन की याद आती है बिछड़े हुए भाई की याद आती है, अब इसे अपनी मां की बहुत याद आती है, अब इसे दोस्त यार बीते हुई लम्हे सब याद आने लगते हैं क्योंकि यह बूढ़ा हो चुका होता है, अब इसकी किसी को जरूर नहीं होती है, एक दिन इसको अपने बाप की भी बहुत याद आने लगती है क्योंकि अब इसके बच्चे इसको वो प्यार नहीं देते जो इसका बाप इसे दिया करता था, बस यही दुख में एक दिन यह अपने मां बाप भाई बहन को याद करते हुए दम तोड देता है।

खैर 

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस के अवसर पर, हम पुरुषों की खिदमत को समर्पित एवं सम्मानित करते हैं। पुरुष जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं और उनके सामर्थ्य, अनुशासन और संघठन-शीलता से समाज को बहुत लाभ मिलता है। हम सराहना करते हैं उनकी प्रतिभा, परिश्रम और अद्भुत सामरिक योग्यता के लिए। हर एक पुरुष, अपनी परख, समर्पण और प्रगति में अत्यधिक महत्वपूर्ण होता है। हमें गर्व है की हम पुरुषों के साथ एक समर्पित समाज निर्माण के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।


True Stories Subscriber

This user has systemically earned a pro badge on Fakharpur.com, indicating their consistent dedication to publishing content regularly. The pro badge signifies their commitment and expertise in creating valuable content for the Fakharpur community.

True Stories Fakharpur: A platform to discover and explore fascinating stories, heart-touching poetry, and the depths of emotions. Join me on this journey of words and imagination. #Storytelling #Poetry #Emotions