कुंडली Astrologer

दूसरे घर में राहु

Parmod Kumar Ahuja Parmod Kumar Ahuja
 0  60
दूसरे घर में राहु

दूसरे घर में राहु

 वाणी बहुत महत्वपूर्ण है, आपको सुखद शब्दों के साथ सच बोलना सीखना होगा -  मुश्किल है  

जिस व्यक्ति के दूसरे घर में राहु है उसके लिए मुख्य बात यह है कि शराब और धूम्रपान पर ध्यान दे सब करते हैं में ऐसा नहीं बोलता

यह स्थिति धन संचय, अक्सर लालच, गलत खान-पान की आदतों के बारे में गहरी चिंता देती है।

दूसरा भाव चेहरे, वाणी, परिवार और धन का प्रतिनिधित्व करता है हालाँकि ऐसे लोग सुन्दर ही होते है अगर दूसरे घर में कोई दोष हो

राहु एक राक्षस है.इसलिए शांतिपूर्ण पारिवारिक जीवन नहीं देगा।

जिस व्यक्ति के दूसरे घर में राहु हो उसका शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण परिवार देखना बहुत दुर्लभ है। कई मामलों में, विवाह तलाक या साथी की मृत्यु के साथ समाप्त होता है। बच्चों के साथ रिश्ते भी ख़राब ही रहते है लेकिन ये लोग असामान्य वित्तीय स्रोत ढूंढ सकते हैं जिसके बारे में सोचना भी मुश्किल है , दो नंबर से भी पैसा मिलता है  है

इन लोगो को परिवार और करियर के बीच एक को भी चुन्ना पड़ सकता है , दोनों क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करना लगभग नामुमिन है

ऐसे लोग आसानी से और अनुचित तरीके से पैसे की तलाश करते हैं।

वे सपने देखते हैं कि उनके ऊपर पैसों से भरा थैला गिर गया है या कोई उनके लिए विरासत छोड़ गया है यानि हवा हवाई किले बनाते रहते है

ऐसे व्यक्ति के लिए बेहतर है कि वह खुद को कर्ज आदि में डेल वरना  निकलना मुश्किल हो सकता है

जब राहु पर पाप ग्रहों की दृष्टि होती है तो चेहरे की त्वचा क्षतिग्रस्त हो सकती है और मुंहासे, तिल, काले धब्बे आदि दिखाई दे सकते हैं।

वाणी अजीब और कठोर हो सकती है, आदमी गली गलोच भी करेगा

 दूसरे घर में क्षतिग्रस्त राहु बुरी आदतें देता है मगर अगर  राहु पर शुभ ग्रह की दृष्टि हो तो चेहरा अत्यंत सुखदायक होगा, बुरी आदते कम होंगी

यह धन के लिए भी अनुकूल है जब राहु दूसरे घर में वृषभ, मिथुन, कन्या, कुंभ राशि में हो।

द्वितीय भाव के मामले (शिक्षा, वाणी, चेहरा, भावनाएँ, धारणा, इच्छाएँ, व्यक्तिगत कमाई, संपत्ति, गणितीय क्षमता, तर्कसंगतता) सामने आते हैं।

व्यक्ति को पैसों से बहुत मोह होता है, वह अधिक कमाना चाहता है मगर देने के मामले में बेहद कंजूस होता है

अक्सर महिलाओं में - विशेष रूप से यदि राहु उच्च का हो या शुक्र के साथ युत हो - उनके रूप-रंग पर नजर रखने की तीव्र इच्छा होती है, कामुक भी बहुत होती है राहु भी यहां दूसरे भाव में है

दूसरे घर में शनि द्वारा दृष्ट राहु के बारे में कहा जाता है कि यह बहुत अच्छे पूंजीपति देता है  क्रोरेपति भी बना दे

ऐसे लोग घूम-फिरकर पैसा कमाते हैं, वे ऐसे तरीके ढूंढते हैं जो दूसरे नहीं करते , यह जरूरी नहीं कि कोई अपराध हो मगर व्यक्ति शातिर होता है

ऐसे लोग धूम्रपान, शराब, कॉफी से तनाव दूर करते हैं कुछ अलग टाइप के नशे भी कर सकते है

ऐसा माना जाता है कि दूसरे घर में राहु दूरदर्शिता की प्रतिभा, जन प्रवृत्तियों को देखने की क्षमता देता है।

ऐसे लोगों के परिवार में नियमतः कोई कोई शराब पीता है ऐसा देखा गया है

यदि राहु जन्म से ही विस्तारित या बलवान हो तो ऐसे लोग अच्छे वक्ता हो सकते हैं, नेतागिरी आदि से भी पैसा कमा लेते है

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि राहु ही परिवार में समस्याएं, झगड़े, घोटाले जैसी स्थितियां पैदा करता है ताकि व्यक्ति इसी क्षेत्र में काम करे। इसलिए आपको अपने परिवार में निवेश करना होगा। तलाक, देखभाल इत्यादि, एक व्यक्ति जो छोड़कर आता है, उससे वैसे भी कोई मदद नहीं मिलेगी

ऐसा जातक दुर्लभ विद्याओं  का भी ज्ञानी हो सकता है मगर उसका  सही इस्तेमाल करेगा इस बात का विश्वास नहीं किया जा सकता , ऐसे जातक के मुँह से निकली बाते सच हो जाती है इसलिए सोच समझ कर की किसी को बद्दुआ दें

 

संपर्क सूत्र : प्रमोद आहूजा 8512831063


Parmod Kumar Ahuja Subscriber

This account is a Pro Subscriber on Vews.in! Enjoy exclusive benefits and premium features. Upgrade your membership to Pro today and unlock even more exciting content and perks. Subscribe now and elevate your Vews.in experience!

Parmod Kumar Ahuja Parmod Kumar Ahuja is a well-known astrologer who is openly writing on topics like IT astrology and politics .